18वां शंघाई सहयोग संगठन सम्मेलन (एससीओ)

 
  • 18वां शंघाई सहयोग संगठन(एससीओ) सम्मेलन चीन के शानडांग राज्य के क्विंगदाओ शहर में 9-10 जून को हो रहा है।
  • चीन का यह पर्यटन शहर सेलिंग सिटी के नाम से भी मशहूर है।
  • क्विंगदाओ पोर्ट से 1 मिनट में औसतन 2.3 टन सी-फूड, 970 टन सामान दुनिया को भेजा जाता है।
  • चीन दुनिया की दूसरी बड़ी इकोनॉमी है।
  • चीन की जीडीपी 951.21 लाख करोड़ रु है।
  • इसमें क्विंगदाओ शहर प्रति मिनट करीब 2.20 करोड़ रुपए का योगदान करता है।
  • भारत इसमे पहली बार पूर्ण सदस्य के रूप मे भाग ले रहा है I
  • मोदी जी का सिक्योर मंत्र :-   S - सिक्योरिटी ऑफ सिटीजेन्स       E - इकनॉमिक डेव्लपमेंट    C - कनेक्टिविटी इन द रीज़न
U - यूनिटी      R -  रेस्पेक्ट सोवेर्जिनिटी एंड इंटीग्रीटी     E -  एनवायरनमेंट प्रोटेक्शन

शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ ) के बारे मे

  • ये एक यूरेशियाई  राजनीतिक, आर्थिक व सैन्य संगठन है I
  • इसकी शुरुआत 26 अप्रैल 1996 को हुई, तब इसका नाम शंघाई -5 था I
  • इसके सदस्य - कजाकिस्तान , रूस , किरगिस्तान , चीन व तजाकिस्तान I
  • 15 जून 2001 को उज्बेकिस्तान को शामिल केआर इसका नाम शंघाई सहयोग संगठन रख दिया I
  • रूसी और चीनी इसकी आधिकारिक भाषा है I
  • इसका उच्चतम नीति निर्धारिक निकाय हैड ऑफ स्टेट काउंसिल है I

17 वे एससीओ के बारे मे कुछ  तथ्य

  • 8-9 जून, 2017 के मध्य शंघाई सहयोग संगठन (SCO) के सदस्य राष्ट्रों के राष्ट्राध्यक्षों की 17वीं शिखर बैठक का आयोजन अस्ताना, कजाख्स्तान में संपन्न हुआ था I
  • इस वार्षिक शिखर सम्मेलन की मेजबानी और अध्यक्षता कजाख्स्तान के राष्ट्रपति नूरसुल्तान नजरबाएव द्वारा की गई।
  • यह तीसरा अवसर है जब कजाख्स्तान ने शंघाई सहयोग संगठन शिखर सम्मेलन की अध्यक्षता की है।
  • इसके पूर्व वर्ष 2005 तथा 2011 में भी कजाख्स्तान ने एससीओ शिखर बैठक की अध्यक्षता की थी।
  • इस शिखर सम्मेलन में चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग, रूस के राष्ट्रपति ब्लादिमीर पुतिन समेत अन्य सदस्य देशों के राष्ट्र्राध्यक्षों ने प्रतिभाग किया।
  • इस सम्मेलन में एससीओ के विस्तार की प्रक्रिया के एक महत्वपूर्ण चरण के तहत भारत तथा पाकिस्तान को संगठन के सदस्य देश का दर्जा प्रदान किया गया।
  • उल्लेखनीय है कि रूस के उफा में वर्ष 2015 के सम्मेलन में एससीओ ने औपचारिक तौर पर प्रस्ताव पारित कर भारत और पाकिस्तान को संगठन में पूर्ण सदस्य के रूप में शामिल करने की प्रक्रिया शुरू की थी।
  • वर्ष 2016 में उज्बेकिस्तान के ताशकंद में आयोजित 16वीं शिखर बैठक में दोनों देशों ने संगठन में शामिल होने के लिए दायित्व ज्ञापन (Momoranda on Obligation) पर हस्ताक्षर किए थे।

भारत और पाकिस्तान के सदस्य बनने के बाद एससीओ की सदस्य संख्या बढ़कर 8 हो गई।

  • जिसके अन्य सदस्यों में चीन, कजाख्स्तान किर्गिस्तान, रूस, ताजिकिस्तान, उज्बेकिस्तान शामिल हैं।
  • ज्ञातव्य है कि भारत और पाकिस्तान को वर्ष 2005 में संगठन के पर्यवेक्षक का दर्जा प्रदान किया गया था।
  • भारत और पाकिस्तान के पूर्ण सदस्य बनने के बाद अब इसमें अफगानिस्तान बेलारूस, ईरान और मंगोलिया पर्यवेक्षक देश हैं।
  • एससीओ एक सैनिक, राजनैतिक और आर्थिक सहयोग वाला संगठन है।
  • जिसकी स्थापना 15 जून, 2001 को हुई थी।
  • यह मुख्य रूप से सदस्य देशों के बीच सैन्य सहयोग से संबंधित है।
  • इसमें खूफिया सूचनाओं को साझा करना, मध्य एशिया में आतंकवाद रोधी अभियान चलाना शामिल है।
  • इसका मुख्यालय बीजिंग, चीन में है।
  • वर्तमान में राशिद अलीमोव एससीओ के महासचिव हैं।
  • शंघाई सहयोग संगठन की 18वीं शिखर बैठक चीन में प्रस्तावित है।